Balaghat Express
July 16, 2018   01 : 56 : 10 AM

पहले दिन पहुंची अंत्योदय एक्सप्रेस, 15 कोच से मग, आइना व सावर हो गए थे चोरी

Posted By : Admin

बिलासपुर। बीकानेर-बिलासपुर अंत्योदय एक्सप्रेस पहली बार बिलासपुर पहुंची तो 18 में से 15 कोच के टायलेट से मग, आइना व सावर चोरी हो गए थे। यात्रियों से इसकी जानकारी मिलने के बाद आरपीएफ, सीएनडब्ल्यू, ओबीएचएस और इलेक्ट्रिक विभाग ने संयुक्त जांच की। इसके बार चोरी गएसामान की सूची बनाई गई। रेलवे में पहली बार किसी ट्रेन में एक साथ इतने सामान चोरी हुए हैं। यह ट्रेन शुक्रवार को बीकानेर से शुरू हुई और शनिवार की रात ढाई बजे बिलासपुर पहुंची। चोरों ने इस वारदात को बीकानेर के बाद अंजाम दिया है। इसकी

पुष्टि यात्रियों ने की। हालांकि किसी ने चोर को नहीं देखा। सभी कोच जनरल होने के कारण यात्रियों को जिस कोच में जगह मिली बैठते चले गए। जयपुर रेलवे ने इस ट्रेन का परिचालन नई रैक से किया है। हर कोच साफ-सुथरा और टायलेट से लेकर वास बेसिन और आइना चमचमा रहा था। हर कोच में चार टायलेट होते हैं। इनमें मग की व्यवस्था की गई थी, जो चेन से बंधे थे। चोरों ने लोहे की चेन को तोड़कर सारे मग को गायब किया है। पहले सिर्फ मग चोरी होने की जानकारी आई। फिर अन्य सामान के गायब होने की सूचना मिलने लगी। गेट के पास लगे वास बेसिन में आइना भी दिया होता है। कोचों में वास बेसिन तो सही सलामत था, लेकिन उसमें लगा आइना उखाड़ा गया था। यात्रियों को इससे असुविधा हुई। ज्यादातर को यही लगा कि पुराने कोच की वजह से सामान गायब हैं। ऐसे में दूसरे कोच गए, लेकिन सभी में यही स्थिति थी। उन्होंने इसकी सूचना रेलवे को दी और सुविधा मुहैया कराने के लिए कहा। कुछ स्टेशनों में उन्होंने आश्वासन भी मिला। हालांकि सुविधा उपलब्ध नहीं हो पाई। जैसे-तैसे ट्रेन बिलासपुर रेल मंडल के दायरे में पहुंची। यहां चोरी होने की खबर से रेल अधिकारी चिंतित हो गए। माना जा रहा है कि घटना को अंजाम देने के बाद चोर बीच रास्ते में उतर गए होंगे। समूह में दिया गया घटना को अंजाम चोरी के तरीके को देकर कर लग रहा है कि समूह में घटना को अंजाम दिया है। एक साथ 15 कोचों का सामान पार करना एक आदमी का काम नहीं है। यह भी माना जा रहा है कि चोरों को इस बात की पहले जानकारी थी कि यह नई ट्रेन है और इसकी रैक और सारा सामान नया है। योजनाबद्ध तरीके से वारदात की गई। यह ट्रेन एनडब्यूआर जोन की है, वहां से इसकी जांच कराई जाएगी। इन सामान की हुई चोरी कोच नंबर चोरी सामान 17493 दो मिरर, चार मग, एक सावर 17482 एक मिरर व चार मग 17491 दो मिरर व चार मग 17490 दो मिरर व चार मग 17488 दो मिरर व चार मग 17495 चार मग व एक सावर 17499 चार मग व एक सावर 17500 दो सावर व एक मग 17503 दो मिरर व एक सावर 17502 एक मिरर 17498 एक मग 17501 चार मग 17504 दो मिरर व चार मग 17496 एक मग 16411 एक मिरर व चार मग

संबंधित खबरें

bgt 04

आज का वीडियो

bgt 03