Balaghat Express
September 18, 2018   12 : 35 : 30 PM

'इंदौरी हेलमेट' तैयार... हादसे में सिर बचेगा, गाड़ी भी नहीं होगी चोरी

Posted By : Admin

अनिल त्रिवेदी, इंदौर। स्मार्ट सिटी के नागरिकों को स्मार्ट बनाने के लिए शहर के दो युवाओं ने 'वायरलेस स्मार्ट हेलमेट' बनाया है, जिसे पहने बिना दोपहिया वाहन चालू ही नहीं होगा। इससे न केवल दुर्घटना होने पर चालक के सुरक्षित रहने की संभावना बढ़ जाएगी, बल्कि गाड़ी चोरी होने की आशंका भी कम हो जाएगी। इस हेलमेट में लगे अल्कोहल सेंसर के चलते तय सीमा से अधिहेलमेट बनाने वाले विश्वास द्विवेदी और प्रमोद पांडे का दावा है कि इस तरह का वायरलेस हेलमेट न केवल इंदौर, बल्कि प्रदेश में पहली बार बनाया

गया है। दिन के साथ-साथ रात में भी सेफ ड्राइविंग सुनिश्चित करने के लिए हेलमेट में 'लेफ्ट-राइट' और ब्रेक इंडिकेटर भी लगाए गए हैं। मोबाइल से कनेक्ट होने पर हेलमेट से वाहन चालक बिना एयरफोन के फोन पर बात के साथ- साथ पसंदीदा संगीत भी सुन सकेगा।क शराब पीने पर भी चालक वाहन स्टार्ट नहीं कर सकेगा।बचेगी सड़क दुर्घटनाओं में घायल दोपहिया चालकों की जान : प्रमोद के मुताबिक देश में हर साल लाखों लोग सड़क दुर्घटनाओं का शिकार होते हैं, जिनमें से कई जान गंवा बैठते हैं तो कई गंभीर घायल हो अपाहिज बन जीने को मजबूर हो जाते हैं। इनमें बड़ी संख्या ऐसे दोपहिया वाहन चालकों की होती है, जिनके सिर पर दुर्घटना के वक्त हेलमेट नहीं होता है। इसके चलते उनके चोटिल होने की आशंका बढ़ जाती है। इस सबसे बचाव में वायरलेस हेलमेट बहुत कारगर साबित होगा। एक हेलमेट में एक साथ इतनी सारी खूबियां : विश्वास बताते हैं कि पहले भी कुछ लोग इस तरह का हेलमेट बनाने की कोशिश कर चुके हैं लेकिन इतनी सारी खूबियों के साथ इस तरह का हेलमेट पहली बार आया है। हम इसे कई सुविधाओं से युक्त करने जा रहे हैं। मटेरियल गुणवत्ता भी बेहतर की जाएगी। प्रधानमंत्री ने 'मन की बात' में किया जिक्र हेलमेट निर्माण से जुड़े युवा विश्वास का जिक्र 'मन की बात' कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी कर चुके हैं। 31 जनवरी 2016 को प्रसारित मन की बात कार्यक्रम में उन्होंने विश्वास के एक स्टार्टअप 'फूडजी' का जिक्र करते हुए कहा था कि देश के युवा इनोवेटिव सोच के साथ आगे बढ़ रहे हैं और नौकरी तलाशने के बजाय अपने लिए कामयाबी की नई राह गढ़ रहे हैं।

संबंधित खबरें

bgt 04

आज का वीडियो

bgt 03